मंगल भवन अमंगल हारी – रामायण Ramayan | Title Song Lyrics | Doordarshan

Mangal Bhavan Amangal Haari Lyrics is a Ramayan Title song which telecast on Doordarshan’s DD National channel. Enjoy the Ramayan TV serial Song lyrics here.

TV Serial: रामायण | Ramayan
Starcast: Arun Govil, Deepika Chikhalia, Sunil Lahri, Sanjay Jog, Arvind Trivedi, Dara Singh, Vijay Arora, Sameer Rajda, Mulraj Rajda, Lalita Pawar
Music: Ravindra Jain
Lyrics: Ravindra Jain
Singer: Ravindra Jain
Director: Ramanand Sagar
Music on: Doordarshan

Mangal Bhavan Amangal Haari Lyrics

मंगल भवन अमंगल हारी
द्रबहु सुदसरथ अचर बिहारी
राम सिया राम सिया राम जय जय राम
मंगल भवन अमंगल हारी
द्रबहु सुदसरथ अचर बिहारी
राम सिया राम सिया राम जय जय राम
हो, होइहै वही जो राम रचि राखा
को करे तरफ़ बढ़ाए साखा

हो, धीरज धरम मित्र अरु नारी
आपद काल परखिये चारी

हो, जेहिके जेहि पर सत्य सनेहू
सो तेहि मिलय न कछु सन्देहू

हो, जाकी रही भावना जैसी
रघु मूरति देखी तिन तैसी

रघुकुल रीत सदा चली आई
प्राण जाए पर वचन न जाई
राम सिया राम सिया राम जय जय राम

हो, हरि अनन्त हरि कथा अनन्ता
कहहि सुनहि बहुविधि सब संता
राम सिया राम सिया राम जय जय राम

Samaza Na Aate Ramayan Song Lyrics

ब्याकुल दशरथ के लगे
रच के पच पर नैन
रच बिहीन बन बन फिरे
राम सिया दिन रैन
विधिना ना तेरे लेख किसी की
समझ ना आते हैं

जन जन के प्रिय राम लखन सिया
वन को जाते हैं

जन जन के प्रिय राम लखन सिया
वन को जाते हैं

हो विधिना ना तेरे लेख किसी की
समझ ना आते हैं

एक राजा के रज दुलरे
वन वन फिरते मारे मारे

एक राजा के रज दुलरे
वन वन फिरते मारे मारे

होनी हो कर रहे करम गति
डरे नहीं क़ाबू के टारे

सबके कस्ट मिटाने वाले
कस्ट उठाते हैं

जन जन के प्रिय राम लखन सिया
वन को जाते हैं

हो विधिना ना तेरे लेख किसी की
समझ ना आते हैं

उभय बीच सिया सोहती कैसे
ब्रह्म जीव बीच माया जैसे
फूलों से चरणों में काँटे
विधिना क्यूँ दुःख दिने ऐसे

पग से बहे लहू की धारा
हरी चरणों से गंगा जैसे

संकट सहज भाव से सहते
और मुसकते हैं

जन जन के प्रिय राम लखन सिया
वन को जाते हैं

हो विधिना ना तेरे लेख किसी की
समझ ना आते हैं

हो विधिना ना तेरे लेख किसी की
समझ ना आते हैं

जन जन के प्रिय राम लखन सिय
वन को जाते हैं

जन जन के प्रिय राम लखन सिया
वन को जाते हैं